पेट्रोल और डीजल के दामों में तेजी लगातार तीसरे दिन भी बनी हुई है. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक मुंबई में पेट्रोल का दाम जहां 91.20 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया तो डीजल भी 78.69 रुपये प्रति लीटर तक तक जा पहुंचा है. दिल्ली में भी पेट्रोल 12 पैसों की बढ़त के साथ 87.18 रुपये और डीजल 16 पैसों की बढ़त के साथ 75.25 रुपये के भाव से बिक रहा है. उधर, कोलकाता में पेट्रोल का भाव 85.65, चेन्नई में 87.18 और पणजी में 77.34 रुपये प्रति लीटर रहा. वहीं डीजल के दाम की बात करें तो यह कोलकाता में 77.10 रुपये, चेन्नई में 79.57 रुपये और पणजी में 76.68 रुपये पर पहुंच गया है.

पेट्रोल-डीजल जीएसटी से बाहर हैं इसलिए राज्य सरकारों द्वारा लगाए जा रहे मूल्य वर्धित कर (वैट) के कारण हर राज्य में ईंधन के दामों में अंतर दिखता है. मुंबई में ईंधन के सबसे अधिक महंगा होने का कारण महाराष्ट्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर लगाया जाने वाला वैट ही है. इस मुद्दे को लेकर 24 सितंबर को महाराष्ट्र कांग्रेस ने विरोध स्वरूप पेट्रोल-डीजल के खाली कनस्तरों और अमेरिकी डॉलर का श्राद्ध किया था. पार्टी का कहना था कि यदि बाकी राज्य तेल पर वैट की दरें कम कर सकते हैं तो महाराष्ट्र सरकार ऐसा क्यों नहीं कर सकती. आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल पहले ही वैट की दरों में कमी कर पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत से उपभोक्ताओं को थोड़ी राहत दे चुके हैं.