नाइजीरिया के अशांत मध्य क्षेत्र में किसानों और चरवाहों के बीच हुए जातीय संघर्ष में कम से कम 13 लोग मारे गये हैं. पीटीआई के मुताबिक वहां की सेना के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी है. सेना के प्रवक्ता मेजर एडम उमर ने गुरूवार को बताया कि इस सप्ताह की शुरुआत में कृषक समुदाय बेरोम और घुमंतू चरवाहा समुदाय फुलानी के बीच जोल नाम के एक इलाके में हिंसा भड़क गयी. उमर ने बताया, ‘मंगलवार को कुछ बंदूकधारियों ने बेरोम समुदाय पर हमला किया जिसमें 13 लोग मारे गये. हमलावरों ने कई घरों को ध्वस्त कर दिया.’

उमर के मुताबिक फुलानी और बेरोम समुदाय द्वारा एक-दूसरे की हत्या की हत्या के मामले आम हैं और यह हमला इसी से जुड़ा हुआ है. उनका यह भी कहना था कि अधिकारियों ने दोनों पक्षों के बीच समझौते के लिये एक बैठक कराई थी लेकिन यह रक्तपात रोकने में विफल रही. इस क्षेत्र में जनजातीय समूहों के बीच हिंसा का लंबा-चौड़ा इतिहास रहा है. बीते जून में बेरोम और फुलानी समुदाय के बीच हिंसा में 86 लोग मारे गए थे. इससे पहले बीते साल जुलाई में भी दोनों समुदायों के बीच इसी तरह के एक हिंसक संघर्ष में 33 लोगों की जान गई थी.