सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ सामूहिक बलात्कार एवं हत्या मामले की नए सिरे से जांच के लिये दायर याचिका खारिज कर दी है. पीटीआई के मुताबिक इस मामले में आरोपित ने पहले की गई जांच को दुर्भावना से प्रेरित बताते हुए फिर से जांच की मांग की थी.

इसके अलावा शुक्रवार को जस्टिस उदय यू ललित और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने इसी मामले में दो अन्य आरोपितों की एक और याचिका को भी खारिज कर दिया. इसमें उन्होंने मामले की जांच एक स्वतंत्र एजेंसी से कराने की मांग की थी. ये दोनों याचिकाएं खारिज करते हुये पीठ ने कहा कि आरोपित सुनवाई के दौरान निचली अदालत के सामने यह मुद्दा उठा सकते हैं.

इसी साल जनवरी में जम्मू कश्मीर के कठुआ मेंं एक बच्ची के साथ बलात्कार कर उसकी हत्या कर दी गई थी. इस मामले में राज्य पुलिस की अपराध शाखा ने सात लोगों खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था. इसके अलावा एक अन्य नाबालिग आरोपित के खिलाफ अलग से आरोपपत्र दाखिल किया गया था.