भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली जा रही दो टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में वेस्टइंडीज पर फॉलोआॅन का खतरा मंडरा रहा है. गुजरात के राजकोट में खेले जा रहे इस मैच में शुक्रवार को नौ विकेट के नुकसान पर 649 रन का भारी भरकम स्कोर खड़ा करने के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने पारी समाप्ति की घोषणा कर दी. विशाल स्कोर का पीछा करने उतरी मेहमान टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक छह विकेट खोकर उसके बल्लेबाजों को 94 रन बना पाने में ही कामयाबी मिल सकी.

इससे पहले शुक्रवार को 364 के योग से भारत ने अपनी पारी को आगे बढ़ाते हुए लंच तक अपना स्कोर 505 रनों तक पहुंचा दिया. इसी दौरान विराट कोहली ने अपना 24वां टेस्ट शतक भी पूरा किया. उधर आठ चौकों और चार शानदार छक्कों की मदद से ऋषभ पंत ने 84 गेंदों पर 92 रनों की धुआंधार पारी खेली. पंत का विकेट जाने के बाद रविंद्र जड़ेजा मैदान पर उतरे.

रविंद्र जड़ेजा ने भी इस मुकाबले में अपने टेस्ट करियर का पहला शतक जड़ा. पांच चौकों और इतने ही छक्कों की मदद से 132 गेंदों पर उन्होंने नाबाद सौ रन बनाए. उनका शतक पूरा होते ही भारतीय कप्तान ने पारी की समाप्ति की घोषणा कर दी. तब 149.5 ओवर में नौ विकेट के नुकसान पर भारत का स्कोर 649 रन था. उधर, मेहमान टीम की तरफ से देवेंद्र बिशू ने सबसे ज्यादा चार विकेट चटकाए. शर्मन लुइस को दो जबकि शैनन गैब्रियल, रॉस्टन चेस और क्रेग ब्रैथवेट को एक-एक विकेट मिला.

चायकाल के बाद वेस्टइंडीज ने अपनी पहली पारी की शुरुआत की. मेहमान टीम की यह शुरुआत अच्छी नहीं रही. उसे पहला झटका तब लगा जब मोहम्मद शमी ने कैरेबियाई कप्तान क्रेग ब्रैथवेट को तीसरे ही ओवर में बोल्ड कर दिया. इसके बाद पांचवें ही ओवर में उन्होंने किरेन पॉवेल को भी एलबीडब्ल्यू आउट कराते हुए पैवेलियन की राह दिखा दी.

दो विकेट के नुकसान से अभी वेस्टइंडीज उबरने की ही कोशिश कर रहा था कि उसी दौरान दसवें ओवर में आर अश्विन ने शाई होप को बोल्ड कर दिया. इसके बाद 12वें ओवर में रविंद्र जड़ेजा ने शिमरोन हेटमायर को रन आउट करके के भारतीय टीम को चौथी सफलता दिला दी. वेस्टइंडीज की टीम को 49 रन के योग पर सुनील एंब्रिस के रूप में पांचवां झटका लगा और फिर 26वें ओवर में कुलदीप यादव ने शेन डाउरिच को बोल्ड आउट किया.

दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक रॉस्टन चेस और कीमो पॉल क्रीज पर टिके हुए थे. उधर, पहली पारी के आधार पर वेस्टइंडीज की टीम भारत से अब भी 555 रन पीछे है. यानी फॉलोआॅन बचाने के लिए भी उसे अभी 356 रन की जरूरत है.