गोल्डन ग्लोब रेस 2018 में हिस्सा लेने के दौरान घायल हुए नौसेना कमांडर अभिलाष टॉमी को स्वदेश ले आया गया है. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक आईएनएस सतपुड़ा के जरिये शनिवार को उन्हें विशाखापट्टनम लाया गया जहां नौसेना की पूर्वी कमान के कल्याणी अस्पताल में उन्हें आगे के इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. इस दौरान नौसेना के वाइस एडमिरल करमबीर सिंह ने अस्पताल जाकर अभिलाष टॉमी से मुलाकात की और उनके स्वास्थ्य का हाल जाना.

इससे पहले सीमित आधुनिक उपकरणों के साथ अकेले ही समुद्री मार्ग के जरिये दुनिया का चक्कर लगाने वाली ‘गोल्डन ग्लोब रेस - 2018’ में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए अभिलाष टॉमी 21 सितंबर को हिंद महासागर में एक भीषण तूफान की चपेट में आ गए थे. इस तूफान में उनकी बोट ‘थुरिया’ के क्षतिग्रस्त हो जाने के साथ वे खुद भी गंभीर रूप से घायल हो गए थे. इसके बाद सैटेलाइट फोन के जरिये उन्होंने मदद मांगी थी और फिर भारतीय नौसेना ने उन्हें बचाने के लिए आॅपरेशन ‘रक्षम’ शुरू किया था.

टैंकर आईएनएस ज्योति, चेतक हेलीकॉप्टर और आईएनएस सतपुड़ा ने गहरे समुद्र में अभिलाष टॉमी की तलाश शुरू करते हुए सहयोगी देशों से भी इस बचाव अभियान में साथ देने की अपील की थी. इसके बाद मॉरीशस से संचालित होने से वाले एक भारतीय विमान ने अभिलाष टॉमी की पहचान की थी जिसके बाद फ्रांस की मछली पकड़ने वाली एक बोट ने उन्हें उनकी क्षतिग्रस्त बोट से सुरक्षित निकालकर हिंद महासागर के एक द्वीप एम्सटर्डम आईलैंड पर स्थित अस्पताल में भर्ती करा दिया था. यह द्वीप फ्रांस द्वारा प्रशासित होता है.