केंद्र सरकार के उत्पाद शुल्क में कटौती से थोड़ा नीचे आई तेल की कीमतें एक दिन बाद ही फिर बढ़ने लगी हैं. पीटीआई के मुताबिक कटौती के बाद दो दिनों में पेट्रोल के दाम 32 पैसे और डीजल के दाम 58 पैैैैसे बढ़े हैं. इस बढ़ोतरी के बाद रविवार को डीजल और पेट्रोल के दाम एक बार फिर तीन सप्ताह के उच्चतम स्तर पर पहुंच गए गए.

इससे पहले बीते चार अक्टूबर को केंद्र सरकार नेे पेट्रोल और डीजल के दामों पर उत्पाद कर में 1.50 रुपये की कटौती की थी. साथ ही तेल कंपनियों नेे भी एक रुपये की सब्सिडी दी थी जिससे डीजल और पेट्रोल में न्यूनतम 2.50 रुपये की कमी हुई थी. भाजपा शासित राज्यों मेंं दाम पांच रुपये तक घटे थे क्योंकि राज्य सरकारों ने भी वैट मेें कमी की थी.

लेकिन, इस कटौती के अगलेे दिन शनिवार को पेट्रोल की कीमत मेंं 18 पैसे और रविवार को 14 पैसे की वृद्धि दर्ज की गई. इसी तरह शनिवार और रविवार को डीजल के दाम में 29-29 पैसे की बढ़ोत्तरी हुई. इस बढ़ोत्तरी के बाद दिल्ली मेें पेट्रोल की कीमत बढ़कर 81.82 रुपए और डीजल की कीमत 73.53 रुपए हो गई है.