विश्व हिंदू परिषद् (विहिप) के पूर्व नेता प्रवीण तोगड़िया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर जमकर हमला बोला है. पीटीआई के मुताबिक तोगड़िया ने इन दोनों नेताओं पर अयोध्या में राम मंदिर को लेकर किए गए वादे को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया है.

रविवार को नागपुर में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि आरएसएस अयोध्या में राम मंदिर बनाने में रूचि नहीं रखता है. उनके मुताबिक अगर संघ वाकई मंदिर बनवाना चाहता है तो उसे इसकी मांग करने के बजाए सीधे प्रधानमंत्री को इसके लिए आदेश देना चाहिए. उसे प्रधानमंत्री से कहना चाहिए कि वे संसद में कानून बनाकर राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ करें.

तोगड़िया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नियत पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘जब एससी-एसटी कानून की बात आती है तो मोदी कहते हैं कि मामले पर अदालतें नहीं, संसद निर्णय लेगी. लेकिन, जब राम मंदिर बनाने की बात आती है तो वे (मोदी) पीछे हट जाते हैं और कहते हैं कि इस मुद्दे पर अदालतें निर्णय करेंगी न कि संसद.’