इंडोनेशियाई शहर पालू में आए भूकंप और सुनामी की वजह से मरने वालों की संख्या 1,944 हो चुकी है. अधिकारियों ने सोमवार को आशंका जताई कि मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है क्योंकि हजारों लोग अब भी लापता हैं.

स्थानीय सैन्य प्रवक्ता एम थोहिर ने बताया, ‘सुलावेसी द्वीप पर 28 सितंबर को आई दोहरी आपदा ने पालू के पूरे-पूरे उपनगरों को तबाह कर दिया है. करीब 5,000 लोगों के लापता होने का अनुमान है. इनमें किसी के भी जीवित मिलने की उम्मीदें अब धुंधली पड़ रही हैं. इससे मृतकों की वर्तमान संख्या बढ़ने की ही संभावना है. अभी हमें शवों और लापता लोगों की तलाश रोकने के आदेश नहीं मिले हैं.’

थोहिर सरकार द्वारा गठित ‘पालू भूकंप कार्यबल के सदस्य भी हैं. उधर आपदा राहत एजेंसी से मिली जानकारी के मुताबिक, ‘लापता लोगों की तलाश 11 अक्टूबर तक चलेगी. जिनका पता नहीं चलेगा उन्हें मृत मानकर लापता के तौर सूचीबद्ध कर दिया जाएगा.’ सरकार का कहना है कि जो ‘शव मलबे के नीचे अब तक जहां दबे हैं, उसी स्थान को उनकी कब्र मान लिया जाएगा. सरकार उन्हें हाथ नहीं लगाएगी.’