उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग-उन अपने देश के परमाणु और मिसाइल परीक्षण स्थलों की जांच अंतरराष्ट्रीय निरीक्षकों द्वारा कराए जाने के लिए तैयार हैं. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने यह बात रविवार को किम जोंग-उन के साथ हुई मुलाकात के आधार पर कही है. माइक पॉम्पियो इसी रविवार को इस साल के अपने चौथे उत्तर कोरियाई दौरे पर प्योंगयांग पहुंचे थे.

इसके साथ ही माइक पॉम्पियो ने यह भी कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन के बीच जल्दी ही दूसरी बैठक आयोजित होगी. दोनों नेताओं के बीच आगामी बैठक के दौरान होने वाले समझौतों को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया भी अपने आखिरी चरण में है. इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति के साथ दूसरी बैठक करने के लिए किम जोंग उन ने बीते महीने डोनाल्ड ट्रंप को एक चिट्ठी लिखी थी जिस पर प्रतिक्रिया देते हुए ट्रंप ने दोनों के बीच जल्दी ही मुलाकात होने की बात कही थी.

किम जोंग उन से मुलाकात करने के बाद माइक पॉम्पियो रविवार को ही दक्षिण कोरिया के लिए रवाना हो गए थे जहां उन्होंने वहां के राष्ट्रपति मून जे-इन से मुलाकात की. इस दौरान माइक पॉम्पियो ने मून जे-इन से कहा, ‘निरस्त्रीकरण की दिशा में उत्तर कोरिया ने एक कदम और बढ़ाया है. हालांकि इस दिशा में अब भी लंबा फासला तय किया जाना बाकी है.’