हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने राज्य में एक आतंक निरोधी बल (एटीएफ) ‘कवच’ के गठन की घोषणा की है. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक मौजूदा समय की सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए राज्य सरकार द्वारा इस विशेष दस्ते का गठन किए जाने का निर्णय किया गया है. कवच के जवानों का चयन हरियाणा पुलिस विभाग से किया जाएगा और विपरीत परिस्थितियों से निपटने के लिए इन्हें विशेष प्रशिक्षण भी दिया जाएगा.

सोमवार को हरियाणा के गुरुग्राम में पत्रकारों को एटीएफ के बारे में जानकारी देते हुए मनोहर लाल खट्टर ने यह भी कहा, ‘इस विशेष बल में शामिल होने वाले जवानों के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) से विशेष प्रशिक्षण की व्यवस्था कराई जाएगी. एनएसजी के साथ इस बारे में मेरी बात हो चुकी है.’ जब उनसे पूछा गया कि राज्य में इस बल की जरूरत क्या है, तो मुख्यमंत्री ने कहा कि यह बल मौजूदा समय की सुरक्षा चुनौतियों से निपटने में भी राज्य की मदद करेगा.

एक अन्य सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने यह भी कहा कि हरियाणा को आतंकवाद संबंधी फिलहाल कोई धमकी नहीं मिली है और यह कदम एहतियातन उठाया जा रहा है. इस दौरान मनोहर लाल खट्टर ने यह भी कहा कि पठानकोट और मुंबई आतंकी हमलों से सबक लेते हुए भविष्य की तैयारियों के तहत कवच के गठन का फैसला किया गया है.