अर्जेंटीना में आयोजित यूथ ओलंपिक में भारत को पहला स्वर्ण पदक जेरेमी लालरिननुगा ने दिलाया है. ऐसा करने वाले वे पहले भारतीय खिलाड़ी हैं. उन्होंने यह स्वर्ण भारोत्तोलन प्रतिस्पर्धा में 62 किलो ग्राम भार वर्ग में जीता है. 15 वर्षीय जेरेमी मिजोरम के रहने वाले हैं. इससे पहले वे यूथ एशियन गेम्स में इसी प्रतिस्पर्धा में रजत पदक जीत चुके हैं. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सोमवार देर रात उन्होंने कुल 274 किलो (124+150) भार उठाया और इस प्रतिस्पर्धा का स्वर्ण पदक अपने नाम किया.

इस प्रतिस्पर्धा का रजत पदक तुर्की के टॉपटस कानेर ने जीता. उन्होंने 263 किलो भार उठाया. वहीं कोलंबिया के विलर एस्टीवन ने 260 किलो भार उठाकर कांस्य पदक अपने नाम किया. 16 अक्टूबर को 16 वर्ष के हो रहे जेरेमी से आगामी प्रतिस्पर्धाओं में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है. कहा जा रहा है कि वे भारत में भारोत्तलन के बड़े नामों में शुमार हो सकते हैं. इस साल के शुरुआत में ही उन्होंने यूथ एशियन गेम्स में रजत और जूनियन एशियन गेम्स में कांस्य पदक अपने नाम किया था. इस दौरान उन्होंने दो राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी बनाए थे.