चक्रवाती तूफान ‘तितली’ ओडिशा और आंध्र प्रदेश पहुंच गया है. दोनों राज्यों के तटीय इलाकों में तूफान के कारण भारी बारिश और भूस्खलन आदि होने की ख़बरें आ रही हैं. तेज हवाएं भी लगभग 126 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही हैं.

एनडीटीवी के मुताबिक तूफान के कारण कच्चे घर, पेड़ और बिजली के खंभे आदि गिरने से कई जगहों में सड़क मार्ग अवरुद्ध हो गया है. रेल सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं. ओडिशा सरकार अब तक पांच तटीय जिलों से करीब तीन लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा चुकी है. इन इलाकों में स्कूल, कॉलेज बंद रखने के निर्देश पहले ही जारी कर दिए गए थे. ‘तितली’ तूफान के मद्देनजर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एनडीएमए) ने लोगों के लिए कुछ दिशानिर्देश भी जारी किए हैं.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने इस बाबत चेतावनी जारी करते हुए बताया था कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र तीव्र होकर चक्रवाती तूफान में बदल गया है. इसकी वजह से ओडिशा और उत्तरी आंध्र प्रदेश के कई तटीय स्थानों पर तूफानी हवाओं के साथ भारी बारिश तथा कुछ स्थानों पर अत्यंत भारी बारिश हो सकती है. दोनों राज्यों के लिए रेड अलर्ट भी जारी कर दिया गया था. इससे पहले बीते महीने भी ओडिशा को चक्रवाती तूफान ‘डे’ की मार का सामना करना पड़ा था.