भारत द्वारा रूस से एस-400 मिसाइल सुरक्षा प्रणाली खरीदने के सौदे पर हस्ताक्षर करने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पहली बार प्रतिक्रिया दी है. ट्रंप के मुताबिक, ‘भारत को अब मेरे फैसले के बारे में जल्द ही पता चल जाएगा.’

न्यूज18 के मुताबिक यह बात उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान कही. इस दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति ने ईरान के तेल का आयात जारी रखने वाले देशों को चेताते हुए कहा कि उन पर भी वे नजर बनाए हुए हैं. ग़ौरतलब है कि अमेरिका ने ‘काउंटरिंग अमेरिकाज़ एडवर्सरीज़ थ्रू सैंक्शंस एक्ट’ (काट्सा) के तहत रूस, ईरान और उत्तर कोरिया समेत कई देशों पर आर्थिक प्रतिबंध लगा रखे हैं. साथ ही चेतावानी दी है कि जो भी देश इन देशों के साथ कारोबारी संबंध रखेगा उसे भी अमेरिकी प्रतिबंधाें का सामना करना पड़ेगा.

इसके बावज़ूद भारत ने रूस से एस-400 मिसाइल सुरक्षा प्रणाली खरीदने का समझौता किया है. साथ ही ईरान से भी कच्चे तेल का आयात करते रहने की बात कही है. संभवत: इसीलिए ट्रंप ने भारत के प्रति यह सख़्त कदम उठाने का संकेत दिया है. हालांकि ख़बरें यह भी आती रही हैं कि अमेरिका काट्सा के तहत भारत जैसे कुछ नज़दीकी सहयोगी देशों को राहत दे सकता है. उन्हें विशेष परिस्थितियाें में अमेरिकी प्रतिबंधों से छूट दी जा सकती है. लेकिन इस पर भी अंतिम फैसला करने का अधिकार डोनाल्ड ट्रंप के पास ही है.