मशहूर अभिनेता अमिताभ बच्चन ने आज अपने 76वें जन्मदिन के मौके पर सोशल मीडिया पर अपना एक इंटरव्यू साझा किया है. इसमें उन्होंने कार्यस्थलों पर महिलाओं के साथ होने वाले यौन उत्पीड़न से संबंधित सवालों का जवाब दिया है. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इंटरव्यू में अमिताभ बच्चन ने कहा महिलाओं को सम्मान और सुरक्षा न दे पाना हमारे लिए कलंक की तरह होगा. उन्होंने कहा, ‘किसी भी महिला के साथ दुर्व्यवहार नहीं होना चाहिए, विशेष तौर पर जब वह अपने कार्यस्थल में हो. ऐसे कृत्‍य को तुरंत संबंधित अधिकारियों के नोटिस में लाया जाना चाहिए और इसके खिलाफ शिकायत दर्ज करानी चाहिए या फिर कानून का सहारा लिया जाना चाहिए.’

दरअसल, फिल्म आलोचक सुभाष के झा ने यौन उत्पीड़न के मुद्दे पर अमिताभ से कुछ सवाल पूछे थे. उन्होंने लिखा था, ‘अमित जी, महिलाओं, बच्चों और कमजोर वर्गों के साथ होने वाले अत्याचारों को आप कैसे देखते हैं? कार्यस्थलों, खास तौर पर मनोरंजन व्यापार से जुड़ी जगहों पर होने वाले यौन उत्पीड़न पर आज काफी बात हो रही है. ऐसे में महिलाओं की सुरक्षा से जुड़ी समस्या को आप कैसे देखते हैं?’

इन्हीं सवालों का जवाब देते हुए अमिताभ बच्चन ने कहा, ‘कार्यस्‍थलों में महिलाओं के प्रतिनिधित्व का लगातार बढ़ना सबसे ज्यादा उत्साहजनक है. यह हमारे लिए कभी न मिट पाने वाले कलंक की तरह होगा यदि हम उन्हें वह सम्मान और सुरक्षा नहीं दे पाए जिसकी वे हकदार हैं.’ अमिताभ के मुताबिक शैक्षणिक स्तर पर अनुशासन और नैतिकता का पाठ्यक्रम जोड़ा जाना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘हमारे समाज में बच्‍चियां, महिलाएं और कमजोर वर्ग सबसे ज्यादा इसकी (यौन उत्पीड़न) चपेट में हैं. उन्हें विशेष सुरक्षा और देखभाल की जरूरत है.’

इससे पहले हाल ही में अमिताभ बच्चन से तनुश्री दत्ता द्वारा नाना पाटेकर पर लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों से संबंधित सवाल किए गए थे. तब अमिताभ ने उन सवालों को यह कहते हुए टाल दिया था कि न तो वे तनुश्री हैं और न ही नाना. इसके बाद उनकी काफी आलोचना हुई थी.