ब्रिटेन में आत्महत्या के मामलों पर लगाम कसने के लिए पहली बार एक मंत्री की नियुक्ति की गई है. बुधवार को सरकार ने विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के मौके पर इसकी घोषणा की है.

पीटीआई के मुताबिक ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरेसा मे ने खुद इसकी जानकारी देते हुए बताया, ‘मैंने यह जिम्मेदारी स्वास्थ्य मंत्री जैकी डॉयल प्राइस को अतिरिक्त प्रभार के रूप में दी है और मुझे उम्मीद है कि इससे आत्महत्या के मामलों को रोकने में मदद मिलेगी.’

टेरेसा मे ने आगे कहा, ‘इससे हम उस धब्बे को मिटा सकते हैं जिसके चलते कई लोग चुप रह कर पीड़ा सहने के लिए बाध्य होते हैं. हम आत्महत्या जैसी त्रासदी को रोक सकते हैं. हम हमारे बच्चों को मानसिक रूप से बेहतर माहौल प्रदान कर सकते हैं.’

ब्रिटिश मीडिया के मुताबिक इस नए उप मंत्रालय का नाम ‘मानसिक स्वास्थ्य, विषमताएं और आत्महत्या की रोकथाम’ रखा गया है. यह आत्महत्या की दर को रोकने और मानसिक रूप से पीड़ित लोगों को मदद मांगने के लिए प्रेरित करेगा.

ब्रिटेन में बढ़ती आत्महत्या की दर ने सरकार को काफी समय से परेशान कर रखा है. देश में हर साल करीब 45,00 लोग आत्महत्या कर लेते हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ब्रिटेन में 45 साल से कम उम्र के पुरूषों की मौत का एक प्रमुख कारण ही आत्महत्या बन गया है.