पूर्व अफ्रीकी देश युगांडा में भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन के कारण कम से कम 31 लोगों की मौत हो गई है और सैकड़ों लोग बेघर हो गए हैं. युगांडा के आपदा प्रबंधन आयुक्त मार्टिन ओवोर ने इसकी पुष्टि की है. वहीं, अन्य मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक मरने वालों की संख्या 34 है. कहा जा रहा है कि अभी इसमें और इजाफा हो सकता है.

पीटीआई-भाषा के मुताबिक भारी बारिश के बाद गुरुवार को युगांडा में भारी तबाही हुई है. यहां की एक नदी में आए उफान के कारण बुकालसी नगर के बाजारों तथा अन्य जगहों पर पानी भर गया. प्राकृतिक आपदा के समय मदद करने वाले एक संगठन के निदेशक नथान तुमुहमये ने बताया कि चार से पांच गांव और एक प्राथमिक विद्यालय भी तबाही के चपेट में आए हैं. वहीं, युगांडा रेड क्रॉस की प्रवक्ता इरेने नकसिता ने तबाही से जुड़ीं कुछ तस्वीरें भी जारी की हैं.

उधर, हालात के मद्देनजर राष्ट्रपति योवेरी मुसेवेनी ने ट्विटर पर लिखा है, ‘बुडुडा जिले में भूस्खलन से भारी तबाही और कुछ लोगों की मौत की दुखद खबरें मिली हैं. सरकार ने प्रभावित इलाकों के लिए बचाव टीमों को रवाना किया है.’