रफाल सौदे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि राहुल गांधी को झूठ बोलने की आदत हो गई है. पीयूष गोयल ने दिल्ली में आयोजित एक प्रेस कॉन्फेंस में यह भी कहा कि राहुल गांधी ने संसद के अंदर भी झूठ बोला था. केंद्रीय रेल मंत्री के मुताबिक, ‘संसद में कांग्रेस अध्यक्ष न कहा था कि वो फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद से मिले थे और गोपनीय जानकारियों के बारे में पूछा था. लेकिन इससे सिर्फ यह साबित होता है कि उन्हें अधूरी जानकारियां हैं. वे यह तक नहीं जानते कि फ्रांस के साथ गोपनीय पैक्ट पर 2008 में मनमोहन सिंह सरकार ने हस्ताक्षर किए गए थे.’

पीयूष गोयल ने गुरुवार को राहुल गांधी द्वारा लगाए आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि राहुल गांधी ने फ्रांस की मीडिया रिपोर्ट को तोड़-मरोड़कर पेश किया है. उन्होंने दावा किया कि 2007-12 तक संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) के दौरान जिन शर्तों पर ये सौदा करने की कोशिश की जा रही थी उससे ज्यादा बेहतर सौदा राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार ने किया है. इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री का कहना था कि सरकार के प्रयासों के जरिए ही रफाल विमानों की समय से पहले डिलीवरी हो रही है और लंबे समय तक रखरखाव और कलपुर्जों की उपलब्धता का आश्वासन मिला है.