केंद्र सरकार से जुड़े एक शीर्ष साइबर सुरक्षा विशेषज्ञ ने उन खबरों को खारिज किया है कि जिनमें कहा जा रहा था कि अगले कुछ घंटों के दौरान कई जगह इंटरनेट सेवाएं बंद हो जाएंगी. एनडीटीवी से बात करते करते हुए राष्ट्रीय साइबर सुरक्षा संयोजक गुलशन राय ने कहा है, ‘मीडिया में ये खबरें आई हैं कि कुछ घंटों के लिए इंटरनेट डाउन हो जाएगा, लेकिन यहां सभी बंदोबस्त कर लिए गए हैं और भारत में ऐसा कुछ नहीं होगा.’

दुनियाभर के मीडिया में कल से यह खबर सुर्खियों में है कि इंटरनेट के मुख्य डोमेन सर्वर में मेंटेनेंस के कारण अगले कुछ घंटों तक इंटरनेट डाउन रह सकता है. इस हवाले से रशिया टुडे ने बताया था कि मुख्य सर्वर में मेंटेनेंस का काम खत्म होते ही इंटरनेट सेवाएं पहले की तरह बहाल हो जाएंगी. इस रिपोर्ट के अनुसार इंटरनेट कॉर्पोरेशन ऑफ असाइंड नेम्स एंड नंबर्स (आईसीएएनएन) इस दौरान मुख्य सर्वर में क्रिप्टोग्राफिक की (KEY) में कुछ बदलाव करेगा ताकि साइबर अटैक से जुड़े जोखिमों को कम किया जा सके.

आईसीएएनएन क्या है

इंटरनेट कॉर्पोरेशन ऑफ असाइंड नेम्स एंड नंबर्स (आईसीएएनएन) एक गैर लाभकारी संस्था है. यह दुनियाभर में इंटरनेट नेटवर्क के रखरखाव का काम करती है. मुख्य रूप से इसके जिम्मे इंटरनेट प्रोटोकॉल एड्रेस (आईपी एड्रेस), डोमेन नेम सिस्टम और इंटरनेट रूट सर्वर के मैनेजमेंट का काम है. यह संस्था सुनिश्चित करती है कि इंटरनेट सुरक्षित और बिना रुके काम करे.