‘मी टू’ अभियान की आंच अब हिंदी फिल्म उद्योग के महानायक अमिताभ बच्चन तक भी आती दिख रही है. जानी-मानी हेयर स्टाइलिस्ट सपना भवनानी ने ट्विटर पर उनके बारे में लिखा है कि उनका सच भी जल्द सामने आएगा.

अमिताभ बच्चन ने अभी हाल में ही इस अभियान का समर्थन किया था. उन्होंने लिखा था, ‘किसी भी महिला के साथ गलत व्यवहार या आचरण की इजाज़त नहीं दी जा सकती. और कार्यस्थल पर तो बिल्कुल भी नहीं...ऐसे मामले तुरंत ज़िम्मेदार अधिकारियों के ध्यान में लाए जाने चाहिए. इनकी शिकायत की जानी चाहिए. कानूनी कार्यवाही की जानी चाहिए... शुरूआती स्तर पर सामाजिक-नागरिक-नैतिक अनुशासन की शिक्षा भी दी जानी चाहिए...’

बच्चन की इस प्रतिक्रिया को जानी-मानी हेयर स्टाइलिस्ट सपना भवनानी ने ‘सबसे बड़ा झूठ’ बताया है. सपना ने ट्विटर पर लिखा है, ‘यह अब तक का सबसे बड़ा झूठ है. सर, (अमिताभ बच्चन के लिए) ‘पिंक’ पीछे छूट चुकी है. इस फिल्म ने आपकी सामाजिक कार्यकर्तानुमा छवि बनाई थी. लेकिन जल्द ही इस फिल्म की तरह आपका आवरण भी पीछे छूट जाएगा. आपका सच जल्द ही सबके सामने आएगा.’

इससे पहले अमिताभ बच्चन के बारे में इसी तरह की प्रतिक्रियाएं आ चुकी हैं. उदाहरण के लिए रोज़ी नाम की एक ट्विटर यूज़र ने लिखा है, ‘आसानी से शिकार (यौन दुर्व्यवहार के) बनाए जा सकने वालों को सुरक्षा कैसे दी जा सकती है, इस पर हमें कम से कम ऐसे लोगों (अमिताभ बच्चन की तरफ इशारा) के मशविरे की ज़रूरत नहीं होनी चाहिए. ये अलग बात है कि उनकी कहानियां सामने नहीं आई हैं लेकिन कई फिल्म पत्रकार सालों से बच्चन के कदाचरण के तमाम किस्से बताते रहे हैं.’

इससे पहले यह भी ख़बर आई थी कि पूर्व मिस इंडिया सयाली भगत ने भी अमिताभ बच्चन पर उन्हें एक कार्यक्रम के दौरान ग़लत तरीके से छूने का आरोप लगाया था. कहा तो यहां भी गया था कि हिंदी फिल्म उद्योग में इसी तरह के चलन से परेशान होकर सयाली ने बॉलीवुड छाेड़कर मिलान, इटली में जाकर मॉडलिंग करने का फैसला किया था. इसके बाद अमिताभ बच्चन ने उनके ख़िलाफ़ पुलिस में शिकायत भी दर्ज़ कराई थी. और फिर जैसा दैनिक भास्कर की ख़बर बताती है, ‘सयाली ने माफी मांग ली और आरोपों से भी पलट गईं.’