ओडिशा के गजपति जिले में ‘तितली’ तूफान की वजह से कम से कम 12 लोगों की मौत की आशंका जताई गई है. खबर के मुताबिक विशेष राहत आयुक्त बीपी सेठी ने आज यह जानकारी दी है. उन्होंने पीटीआई-भाषा को बताया कि तूफान के चलते आई भारी बारिश से जो भूस्खलन हुआ उसकी वजह से कम से कम 12 लोगों के मरने की आशंका है. इसके अलावा चार लोग लापता भी बताए गए हैं.

बीपी सेठी के मुताबिक शुक्रवार शाम को भारी बारिश के बाद कुछ ग्रामीणों ने एक गुफा जैसी जगह में शरण ली थी. उसी दौरान यह हादसा हुआ है. सेठी ने कहा कि जो लोग लापता हैं वे मलबे में दबे हो सकते हैं. अधिकारी के मुताबिक जिले के जिलाधिकारी को घटनास्थल पर जाने और स्थिति का जायजा लेकर विस्तृत रिपोर्ट देने को कहा गया है. उन्होंने भूस्खलन से प्रभावित लोगों को सरकारी प्रावधानों के मुताबिक आर्थिक सहायता मुहैया कराए जाने की बात कही है.

बचाव कार्यों की जानकारी देते हुए अधिकारी ने बताया कि लगातार बारिश से प्रभावित जिले में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के कर्मियों सहित एक और बचाव दल को भेजा गया है. उन्होंने कहा कि अन्य इलाकों में पानी घटने के साथ ही वहां भी राहत व बचाव अभियान जोर पकड़ने लगा है. वहीं, स्थिति की समीक्षा करने वाले मुख्यमंत्री नवीन पटनायक जल्दी ही गंजम, गजपति और रायगढ़ा जिलों सहित कुछ और प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे.