भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक वेस्टइंडीज के 311 रनों के जवाब में भारत ने 308 रन बना लिए हैं. इस तरह पहली पारी के आधार पर मेहमान टीम की तरफ से खड़े किए गए स्कोर से भारत अब सिर्फ तीन रन पीछे है. भारत के पास अब वेस्टइंडीज के स्कोर से आगे निकलने का बढ़िया मौका भी है क्योंकि मेजबान टीम के पास अब भी छह विकेट शेष हैं.

इससे पहले वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों रोस्टन चेस और देवेंद्र बिशू ने शनिवार का खेल आगे बढ़ाया. पहले दिन सात विकेट के नुकसान पर 295 रन बनानी वाली कैरीबियाई टीम दूसरे दिन के पहले सत्र में ही 311 रन बनाकर आॅल आउट हो गई. इस बीच रोस्टन चेस ने छह चौकों और चार छक्कों की मदद से अपना शतक पूरा किया. 189 गेंदों पर 106 रन बनाने वाले चेस को उमेश यादव ने क्लीन बोल्ड किया. शैनन ग्रैबियल का विकेट भी उमेश यादव के ही खाते में आया जबकि देवेंद्र बिशू को कुलदीप यादव ने पैवेलियन की राह दिखाई.

वेस्टइंडीज के 311 रनों के जवाब में सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने भारत को तेज शुरुआत दिलाई. केएल राहुल के रूप में भारत को पहला झटका लगा तब भारतीय टीम का स्कोर 61 रन था. राहुल ने सिर्फ चार रन बनाए. वहीं लंच के बाद जोमेल वॉरिकन ने पृथ्वी शॉ को कैच आउट कराकर पैवेलियन भेज दिया. अपना दूसरा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टेस्ट खेल रहे पृथ्वी शॉ ने 11 चौकों और एक छक्के की मदद से 53 गेंदों पर 70 रन की शानदार पारी खेली. इसके बाद चेतेश्वर पुजारा ने जल्दी ही अपना विकेट गंवा दिया उन्होंने दस रन का योगदान दिया. फिर 43वें ओवर में 162 के योग पर जैसे ही जेसन होल्डर ने भारतीय कप्तान विराट कोहली को पगबाधा आउट किया तो भारतीय टीम बैकफुट पर आती दिखने लगी.

एक वक्त ऐसा भी लगा कि भारत मेहमान टीम द्वारा दिए लक्ष्य तक नहीं पहुंच सकेगा लेकिन अजिंक्य रहाणे और ऋषभ पंत कैरीबियाई गेंदबाजों के खिलाफ पिच पर खूंटा गाड़कर खड़े हो गए. मध्यक्रम के इन दोनों बल्लेबाजों के बीच 146 रन की नाबाद साझेदारी के दम पर भारत का स्कोर चार विकट के नुकसान पर 308 रन पर पहुंच गया. आज का खेल समाप्त होने तक अंजिक्य रहाणे 75 जबकि ऋषभ पंत 85 रन बनाकर पिच पर थे.