हरियाणा के गुरुग्राम में एक जज के निजी सुरक्षा कर्मी ने उनकी पत्नी और बेटे को गोली मार दी है. गुरुग्राम की डीसीपी (पूर्व) सुलोचना गजराज के मुताबिक दोनों को शहर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है. पीटीआई के अनुसार यह घटना करीब साढ़े तीन बजे की है जब अतिरिक्त न्यायाधीश कृष्णकांत की पत्नी ऋतु और बेटा ध्रुव गुरुग्राम के आर्केडिया बाजार में खरीदारी के लिए गए थे. उनके साथ न्यायाधीश का सुरक्षा कर्मी महिपाल सिंह भी था.

‘कुछ स्थानीय लोगों ने पुलिस को आर्केडिया बाजार के बाहर गोली चलने की सूचना दी. जब पुलिस दल पहुंचा तो उन्हें ऋतु और ध्रुव खून से लथपथ मिले...ऋतु को सीने में गोली लगी है जबकि ध्रुव को सिर में गोली लगी है’ सुलोचना गजराज बताती हैं, ‘दोनों घायलों को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई है.’

एनडीटीवी के मुताबिक इन दोनों को गोली मारने के बाद महिपाल सिंह ने कृष्णकांत शर्मा को फोन करके इस अपराध के बारे में जानकारी भी दी. बाद में वह घटनास्थल से फरार हो गया लेकिन उसे फरीदाबाद से गिरफ्तार कर लिया गया।

गुड़गांव पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने पीटीआई को बताया कि महिपाल से यह जानने के लिए पूछताछ की जा रही है कि उसने गोली क्यों चलाई. खबरों के मुताबिक महिपाल पिछले कुछ समय मानसिक तौर पर अशांत और गहरे अवसाद में था.