कई महिला पत्रकारों के यौन उत्पीड़न का आरोप झेल रहे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर रविवार को विदेश दौरे से वापस लौट आए हैं. हवाई अड्डे पर संवाददाताओं के सवालों का जवाब देते हुए विदेश राज्य मंत्री ने कहा कि वह इस बारे में बाद में एक बयान जारी करेंगे.

पीटीआई के मुताबिक केंद्रीय मंत्री ने मीडिया के सवालों का दो टूक जवाब देते हुए कहा, ‘बाद में एक बयान जारी किया जाएगा.’

सोशल मीडिया पर चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत कई महिला पत्रकारों ने एमजे अकबर पर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं. इन आरोपों को लेकर अब तक अकबर की तरफ से कोई बयान जारी नहीं किया गया है. बीते हफ्ते ये आरोप लगने के कुछ घंटे बाद ही वे नाइजीरिया के दौरे पर चले गये थे. इस मामले को लेकर काफी आलोचना झेल रही भाजपा का कहना था कि अकबर स्वदेश से लौटने के बाद इस मामले पर अपनी स्थिति स्पष्ट करेंगे जिसके बाद ही पार्टी कोई निर्णय लेगी.

हालांकि, इस मामले में भाजपा ने जांच करने की बात कही है. शनिवार को पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का कहना था, ‘एमजे अकबर पर लगे यौन शोषण के आरोपों के बारे में यह देखा जाएगा कि ये आरोप गलत हैं या सही. इस बारे में हमें सोशल मीडिया पर जो पोस्ट डाली जा रही हैं और जो लोग इन्हें डाल रहे हैं उनकी भी सत्यता जांचनी होगी.’

इससे पहले केंद्र सरकार भी ‘मी टू’ अभियान के तहत लगाए जा रहे यौन शोषण और उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए एक समिति के गठन की घोषणा कर चुकी है.