छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनावों में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की भूमिका को लेकर बड़ी खबर आ रही है. अजीत जोगी के बेटे अमित जोगी ने आज कहा कि उनके पिता इन चुनावों में बतौर उम्मीदवार हिस्सा नहीं लेंगे. हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक अमित जोगी ने साफ किया कि भले ही छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जेसीसी) के नेता अजीत जोगी चुनाव नहीं लड़ेगें लेकिन, वे गठबंधन सहयोगियों के लिए प्रचार अभियान में शामिल रहेंगे.

खबर के मुताबिक अमित जोगी ने कहा कि जेसीसी के साथ बसपा और सीपीआई ने महागठबंधन किया है. उन्होंने कहा कि यह इसी गठबंधन का फैसला है कि जोगी चुनाव नहीं लड़ेंगे. अमित जोगी ने कहा, ‘वे (अजीत जोगी) पूरे राज्य पर ध्यान देंगे और खुद चुनाव लड़ने के बजाय सभी उम्मीदवारों के लिए प्रचार करेंगे. इसका मकसद पार्टी को मजबूत कर छत्तीसगढ़ में सरकार बनाना है.’

इससे पहले अजीत सिंह ने घोषणा की थी कि वे राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह के खिलाफ राजनांदगांव से चुनाव लड़ेंगे. जोगी ने कहा था कि इसके लिए वे दो महीने से इस विधानसभा क्षेत्र में प्रचार कर रहे हैं. अब अमित जोगी द्वारा की गई घोषणा के बाद यह तय नहीं हुआ है कि राजनांदगांव से अब किस उम्मीदवार को उतारा जाएगा.