जम्मू और कश्मीर के नौगाम में सुरक्षा बलों के साथ मारे गए दो आतंकियों में से एक की पहचान सब्जार सोफी के रूप में हुई है जो नई दिल्ली स्थित जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में शोध का छात्र रह चुका था. एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक सब्जार सोफी ने दो साल पहले पहले पढ़ाई छोड़ दी थी और इसके बाद वह जैश-ए-मुहम्मद नाम के आतंकी संगठन में शामिल हो गया था.

इससे पहले बीते रविवार को कुलगाम जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी, जिसमें सेना ने अपनी कार्रवाई के दौरान जैश के तीन आतंकियों को मार गिराया था. इस मुठभेड़ के बाद स्थानीय लोग एक मकान में लगी आग को बुझा रहे थे. इस दौरान हुए ब्लास्ट में सात लोगों की मौत हो गई थी. इसके बाद से राज्य में हालात तनावपूर्ण हैं. श्रीनगर, कुलगाम, अनंतनाग, पुलवामा, शोपियां, बांदीपोरा, बारामुला और सोपोर में स्कूल-कॉलेज बंद है. किसी भी प्रकार की अफवाहों को बल न मिले इसलिए इन जगहों पर इंटरनेट भी बंद रखा गया है.