महाराष्ट्र के पुणे सेशन कोर्ट ने भीमा कोरेगांव मामले के तीन आरोपितों वरनॉन गोंजाल्विज, अरुण फरेरा और सुधा भारद्वाज की जमानत याचिका खारिज कर दी है. ये तीनों फिलहाल नजरबंदी में हैं जो आज खत्म हो रही है. पुणे पुलिस ने बीती 28 अगस्त को इन तीनों को सामाजिक कार्यकर्ता वरवरा राव और गौतम नवलखा के साथ गिरफ्तार किया था.

इससे पहले गुरुवार को हैदराबाद हाई कोर्ट ने भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में नजरबंद मानवाधिकार कार्यकर्ता वरवरा राव की नजरबंदी तीन हफ्तों के लिए बढ़ा दी थी. वहीं, इसी मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में एक अहम सुनवाई होने वाली है. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ रोमिला थापर की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई करेगी.