अपने ही आश्रम की एक सेविका द्वारा लगाए गए बलात्कार के आरोप के मामले में स्वयंभू बाबा दाती महाराज उर्फ दाती मदनलाल की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. एनडीटीवी के मुताबिक केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दाती महाराज के खिलाफ बलात्कार और अप्राकृतिक यौन संबंध का मामला दर्ज किया है. इससे पहले दिल्ली पुलिस द्वारा इस मामले की जांच में ढिलाई बरतने का आरोप लगाते हुए पीड़ित महिला ने दिल्ली हाईकोर्ट का रुख किया था. साथ ही उसने सीबीआई से इस मामले की जांच कराए जाने की मांग की थी. पीड़िता की मांग को स्वीकार करते हुए जस्टिस राजेंद्र मेनन और वीके राव की खंडपीठ ने जांच की जिम्मेदारी सीबीआई को सौंप दी थी.

इससे पहले इस मामले की पीड़िता ने इसी सात जून को दक्षिण दिल्ली के फतेहपुर बेरी पुलिस थाने में दाती महाराज के खिलाफ बलात्कार की शिकायत दर्ज कराई थी. पुलिस को दिए बयान में तब पीड़िता ने उसके साथ दिल्ली और राजस्थान के आश्रम में बलात्कार​ होने की बात कही थी. इसके बाद 11 जून को इस मामले में एफआईआर दर्ज करते हुए पुलिस ने 22 जून को आरोपित दाती महाराज से पूछताछ की थी. तब दाती महाराज ने इन आरोपों को गलत और बेबुनियाद बताते हुए खुद को झूठे मामले में फंसाए जाने की बात भी कही थी.