कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विधानसभा चुनावों के मद्देनजर सोमवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन पहुंचे. यहां सबसे पहले उन्होंने महाकाल मंदिर में पूजा-अर्चना की. इसके बाद यहां आयोजित एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमले किए. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की गलतियों के कारण ‘आज जम्मू और कश्मीर जल रहा’ है.

इसके साथ आगे राहुल गांधी ने कहा, ‘केंद्र सरकार ने आतंकवादियों के लिए जम्मू और कश्मीर के दरवाजे खोल दिए हैं. कोई नेता वहां शहीद नहीं होता, लेकिन हर रोज हमारे जवान अपनी जान गवां रहे हैं. यह सब प्रधानमंत्री की गलतियों की वजह से हो रहा है.’ कांग्रेस अध्यक्ष के मुताबिक प्रधानमंत्री सर्जिकल स्ट्राइक, सेना और नौसेना की बात करते हैं, लेकिन कभी भी सैनिकों की बात नहीं करते. उन्होंने आगे सवाल उठाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कम से कम यह बताना चाहिए कि उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक करने वाले सैनिकों के लिए क्या किया.

राहुल गांधी ने इस दौरान ‘वन रैंक वन पेंशन’ का जिक्र करते प्रधानमंत्री पर झूठ बोलने का आरोप भी लगाया. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने दावा किया था कि ‘वन रैंक वन पेंशन’ लागू कर दी है, लेकिन अभी तक यह योजना लागू नहीं की गई है. इस दौरान शराब कारोबारी विजय माल्या का जिक्र करते हुए राहुल गांधी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को भी आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि देश छोड़ने से पहले विजय माल्या अरुण जेटली से मिले थे. हालांकि, जेटली अपने ऊपर लगाए आरोपों को पहले खारिज कर चुके हैं.