चीन ने एक कैरियर रॉकेट की सफल ‘सीधी’ लैंडिंग कराकर अंतरिक्ष यातायात प्रणाली के विकास में नया मुकाम हासिल कर लिया है. अब उसे ऐसा रॉकेट बनाने में आसानी होगी जिसे अंतरिक्ष यात्रा में एक बार प्रयुक्त होने के बाद भी दोबारा इस्तेमाल किया जा सकेगा.

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने आज बताया कि चाइना एयरोस्पेस साइंस एंड टेक्नोलॉजी कॉरपोरेशन के तहत बीजिंग एयरोस्पेस इंस्टीट्यूट ऑफ ऑटोमेटिक कंट्रोल ने एक कैरियर रॉकेट को जमीन पर उर्ध्वाधार स्थिति (वर्टिकली) में उतारने में सफलता हासिल कर ली है. एजेंसी ने बताया कि यह परीक्षण सोमवार को किया गया था जिसकी जानकारी आज दी गई है. चीन में इस परियोजना पर इस साल शोध प्रारंभ हुआ था.

पीटीआई के मुताबिक परियोजना से जुड़े वैज्ञानिकों ने दोबारा इस्तेमाल में लाए जा सकने वाले छोटे आकार के प्लेटफॉर्म का डिजाइन तैयार करके उसका निर्माण किया. इनकी मदद से परीक्षण के लिए रॉकेट जमीन से उर्ध्वाधार स्थिति में उड़ान भरेंगे और उसी स्थिति में जमीन पर उतर सकेंगे.