इतिहास में भारत के लिए आज की तारीख अंतरिक्ष में उसकी एक बहुत बड़ी कामयाबी से जुड़ी हुई है. पांच बरस पहले आज ही के दिन भारत ने ऐसा कारनामा किया था जो इतिहास में इस दिन की एक बड़ी घटना के तौर पर दर्ज हो गया. पांच नवंबर, 2013 को उसने अपना पहला मंगलयान अंतरिक्ष में रवाना किया था.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा द्वीप स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र से अपने पीएसएलवी रॉकेट के माध्यम से इसे प्रक्षेपित किया था. सबसे कम लागत में तैयार यह अंतरिक्ष यान 24 सितंबर, 2014 को सफलतापूर्वक चंद्रमा पर पहुंचा. इस मामले में अपने प्रथम प्रयास में ही सफल होने वाला भारत दुनिया का पहला देश और अमेरिका, रूस और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के बाद दुनिया का चौथा देश बना.

देश-दुनिया के इतिहास में पांच नवंबर की तारीख में दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है :

1556 : पानीपत की दूसरी लड़ाई में बैरम खान की हार के बाद भारत में मुगल ताकत बहाल.

1914 : फ्रांस और ब्रिटेन ने तुर्की के खिलाफ युद्ध छेड़ा. इससे पहले विश्व युद्ध का दायरा बढ़ा.

1930 : सामाजिक आलोचक सिंक्लेयर लुइस ने साहित्य के लिए नोबेल पुरस्कार जीता. यह सम्मान हासिल करने वाले वे पहले अमेरिकी बने.

1940 : फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट अभूतपूर्व रूप से तीसरी बार अमेरिका के राष्ट्रपति चुने गए.

1956 : मिस्र और इजरायल की सेनाओं के बीच स्वेज नहर के आसपास संघर्ष के दौरान ब्रिटेन और फ्रांस की सेनाएं मिस्र पहुंचीं.

1994 : जॉर्ज फोरमैन ने माइकल मूरर को हराकर 45 बरस की आयु में विश्व हैवीवेट चैंपियन का खिताब जीता.

2006 : सद्दाम हुसैन को मानवता के खिलाफ अपराधों पर मौत की सजा सुनाई गई.