भारत, चीन और जापान समेत आठ देशों को भारत ने ईरान से कच्चा तेल खरीदने की छूट दी है. यह जानकारी अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने सोमवार को दी. माइक पॉम्पियो ने कहा है, ‘हमने विशिष्ट परिस्थितियों के कारण कुछ हद तक इन देशों को अमेरिकी प्रतिबंधों से छूट दी है.’ पॉम्पियो ने यह भी कहा कि 20 देशों ने पहले ही ईरान से तेल खरीदना बंद कर दिया है और ईरान की तेल खरीद में 10 लाख बैरल प्रतिदिन की कमी आई है.

जिन आठ देशों को इस प्रतिबंध से राहत दी गई है, उनमें चीन, भारत, ग्रीस, इटली, ताइवान, जापान, तुर्की और दक्षिण कोरिया शामिल हैं. माइक पॉम्पियो ने बताया कि यह छूट केवल छह महीने तक रहेगी. इसके बाद इन देशों को तेल के आयात में कमी लानी होगी.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस साल की शुरूआत में घोषणा की थी कि उनका देश ईरान के साथ हुए समझौते से हट रहा है. इसके बाद उन्होंने यह भी कहा था कि चार नवंबर 2018 के बाद से ईरान पर अमेरिकी आर्थिक प्रतिबंध लागू हो जाएंगे. इसके बाद ईरान से कारोबारी संबंध रखने वाले देशों को अमेरिका की सख़्ती का सामना करना होगा. दरअसल, ट्रंप प्रशासन का मानना है कि समझौते की आड़ में ईरान परमाणु हथियार विकसित कर रहा है और उसे यह बंद करना चाहिए. इसी मकसद को हासिल करने के लिए दबाव बनाने की रणनीति के तहत अमेरिका ने ये प्रतिबंध लगाए हैं.