प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाला मामले में आरोपित नीरव मोदी की दुबई स्थित 56 करोड़ रुपये की 11 संपत्तियों को जब्त (सीज) करने का आदेश जारी किया है. ईडी ने यह कार्रवाई मनी लॉन्डरिंग रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत की है. वहीं मंगलवार की सुबह ईडी के अधिकारियों ने कोलकाता से मेहुल चौकसी के साथी दीपक कुलकर्णी को गिरफ्तार किया है. दीपक हांगकांग में स्थित मेहुल चोकसी की एक फर्म का डायरेक्टर है. जांच एजेंसियों ने दीपक के खिलाफ भी लुकआउट नोटिस जारी किया था.

सूत्रों के मुताबिक ईडी जल्दी ही मुंबई की एक अदालत से चोकसी की इन संपंत्तियों को जब्त करने के लिए ‘न्यायिक प्रार्थना पत्र’ (ज्यूडिशियल रिक्वेस्ट) हासिल करेगा. इसके बाद ईडी अंतरराष्ट्रीय कानूनों के मुताबिक दुबई प्रशासन के जरिए इन संपंत्तियों को औपचारिक रूप से जब्त कर लेगा.

इससे पहले जांच एजेंसियों ने न्यूयॉर्क में स्थित नीरव मोदी और उसके परिजनों से जुड़ी दो संपत्तियों को सीज किया था. सीज की गई इन संपत्तियों की कुल कीमत करीब 637 करोड़ रुपये है. पीएनबी में इस साल के शुरुआत में सामने आया घोटाला करीब 13,500 करोड़ रुपए का है. इसमें फर्जी दस्तावेजों के सहारे मेहुल चोकसी और उसके भांजे नीरव मोदी ने कर्ज लिया था. फिर उसे चुकाए बिना ही दोनों देश छोड़कर भाग गए. नीरव मोदी अभी लंदन में है जबकि चोकसी ने एंटीगुआ की नागरिकता ले ली है. इस मामले की ईडी के अलावा सीबीआई भी जांच कर रही है.