अगले महीने की सात तारीख को होने वाले तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने राज्य में सीटों के बंटवारे को अंतिम रूप दे दिया है. एनडीटीवी के मुताबिक कांग्रेस की तेलंगाना इकाई के प्रभारी आरसी खुंटिया ने कहा है कि पार्टी का कौन सा सहयोगी दल कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगा यह तय कर लिया गया है और अब इस पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मंजूरी का इंतजार है. तेलंगाना में कांग्रेस, तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी), तेलंगाना जन समिति (टीजेएस) और मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के साथ गठजोड़ के साथ चुनावी मैदान में उतरी है.

उधर, तेलंगाना में खुद कांग्रेस कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी इस बारे में आरसी खुंटिया ने फिलहाल कुछ नहीं कहा है. हालांकि सूत्रों के मुताबिक माना जा रहा है कि 119 सीटों वाली राज्य विधानसभा में खुद कांग्रेस 90 सीटों पर चुनाव लड़ सकती है. इस बीच टीडीपी ने कांग्रेस से 14 से 18 सीटें मिलने का दावा किया है जबकि टीजेएस के संस्थापक अध्यक्ष एम कोंडाराम का कहना है कि कांग्रेस ने उन्हें आठ से दस सीटों का प्रस्ताव दिया है. उन्होंने आगे कहा कि गठबंधन से उन्हें 12 सीटें मिलने की उम्मीद थी लेकिन इस मसले को सुलझा लिया जाएगा.

अपने तीसरे दल सीपीआई को कांग्रेस ने तीन सीटों पर चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया है जिस पर पार्टी के महासचिव सुरवरम सुधाकर रेड्डी ने कहा है, ‘इस बारे में शुक्रवार को होने वाली राज्य कार्यकारिणी की बैठक में चर्चा की जाएगी.’ उनका यह भी कहना है, ‘कांग्रेस ने उनकी पार्टी को दो एमएलसी सीट देने का प्रस्ताव भी दिया है जो मौजूदा परिस्थितियों के मुताबिक बेहतरीन लगता होता है, लेकिन इस पर आखिरी फैसला पार्टी कैडर से बातचीत के बाद ही होगा.’