बांग्लादेश में संसदीय चुनाव की घोषणा हो गई है. देश में 23 दिसंबर को आम चुनाव होंगे. गुरूवार को चुनाव आयोग ने सरकार और मुख्य विपक्षी गठबंधन के मध्य चुनाव की तारीखों को लेकर चल रहे गतिरोध के बीच यह घोषणा की है.

पीटीआई के मुताबिक गुरूवार को बांग्लादेश के मुख्य चुनाव आयुक्त नूर-उल-हुदा ने चार चुनाव आयुक्तों के साथ कई घंटे बैठक की और इसके बाद उन्होंने मतदान की तिथि का ऐलान कर दिया. हुदा ने सभी सियासी पार्टियों से चुनाव में हिस्सा लेने की अपील भी की है, ताकि बांग्लादेश के विकास के प्रयासों को जारी रखा जा सके और लोकतंत्र को और मजबूत किया जा सके. हालांकि, तारीखों की घोषणा के बाद विपक्षी पार्टियों ने चुनाव के लोकतांत्रिक नहीं होने का अंदेशा जताया है और विरोध प्रदर्शनों की धमकी दी है.

इससे पहले बांग्लादेश में नव निर्मित नेशनल यूनिटी फ्रंट (एनयूएफ) ने चुनाव की तारीख को टालने की मांग की थी. जबकि, सत्ताधारी अवामी लीग ने आयोग से अनुरोध किया था कि वह अपनी योजना के तहत ही तारीखों का ऐलान करे. इस पर चुनाव आयोग का कहना था कि वह 28 जनवरी तक चुनाव कराने के लिए संवैधानिक रूप से बाध्य है.