छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा है कि राज्य विधानसभा चुनाव में अगर उनके गठबंधन को जीत मिलती है तो वे छत्तीसगढ़ के अगले मुख्यमंत्री होंगे. एनडीटीवी के मुताबिक उनका यह भी कहना है, ‘छत्तीसगढ़ में हम बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी (सीपीआई) के साथ मिलकर चुनाव लड़ रहे हैं और यह गठबंधन बनाने के वक्त ही तय हो गया था कि विधानसभा चुनाव में जीत मिलने पर मैं राज्य का मुख्यमंत्री बनूंगा.’

अजीत जोगी का यह भी कहना है, ‘भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकारों से देश उकता चुका है. इसलिए कांग्रेस और भाजपा के इतर एक महागठबंधन तैयार किए जाने की जरूरत है. मुझे पूरा विश्वास है कि 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में इस गठबंधन को जरूर जीत मिलेगी.’ उन्होंने आगे कहा, ‘इस गठबंधन में प्रधानमंत्री कौन होगा यह बाद में तय किया जा सकता है. लेकिन व्यक्तिगत राय के तौर पर मुझे बसपा प्रमुख मायावती प्रधानमंत्री पद की उपयुक्त पात्र लगती हैं. दलित महिला होने के अलावा वे चार बार उत्तर प्रदेश जैसे बड़े सूबे की मुख्यमंत्री रह चुकी हैं.’

उधर, छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए 12 और 20 नवंबर को दो चरणों में मतदान कराए जाएंगे. इसके बाद 11 दिसंबर में चार अन्य राज्यों के विधानसभा चुनाव के परिणामों के साथ यहां के नतीजों की भी घोषणा की जाएगी.