भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मालदीव के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सालेह के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक मालदीव के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सालेह इसी महीने की 17 तारीख को देश के अगले राष्ट्रपति के तौर पर पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे. प्रधानमंत्री के तौर पर नरेंद्र मोदी की यह पहली मालदीव यात्रा होगी. इससे पहले मार्च 2015 में उनकी मालदीव यात्रा तय हुई थी लेकिन तब वहां के राजनीतिक हालत को देखते हुए उस यात्रा को रद्द कर दिया गया था.

नरेंद्र मोदी की इस यात्रा को कूटनीतिक लिहाज से भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. इसकी बड़ी वजह यह है कि इब्राहिम मोहम्मद सालेह को भारत के समर्थकों में से एक माना जाता है जबकि इससे पहले वहां की अब्दुल्ला यमीन के नेतृत्व वाली सरकार का झुकाव चीन की तरफ ज्यादा था. अब्दुल्ला यमीन के शासनकाल में चीन ने दक्षिण एशिया के इस देश में अपनी पकड़ काफी मजबूत की थी जिससे हिंद महासागर में भारत के रणनीतिक हितों पर प्रतिकूल असर पड़ रहा था.

उधर, इसी साल सितंबर में हुए चुनाव में जीत हासिल करने पर नरेंद्र मोदी ने इब्राहिम मोहम्मद सालेह को फोन पर बधाई दी थी. तब उन्होंने मालदीव में शांति और संपन्नता के साथ लोकतंत्र की जड़ें और गहरी होने की उम्मीद भी जताई थी. उस दौरान सालेह ने भारतीय प्रधानमंत्री से दोनों देशों के पारस्परिक संबंधों को और मजबूत करने की बात भी कही थी.