मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री माधुरी दीक्षित का मानना है कि नेटफ्लिक्स ने भारतीय फिल्म उद्योग को प्रभावित किया है. उन्होंने ‘सी व्हाट नेक्सट : एशिया समारोह’ नामक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही. एक पैनल चर्चा में माधुरी ने कहा, ‘मेरा मानना है कि स्टार हमेशा स्टार होते हैं, लेकिन यह एक नया और बड़ा बदलाव है जहां आप व्यवस्था को बाधित करते हैं और नेटफ्लिक्स यही कर रहा है.’

पीटीआई की खबर के मुताबिक 51 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा कि नेटफ्लिक्स अपने उपयोगकर्ताओं को घर बैठे विकल्प मुहैया करा रहा है. बहस के दौरान अभिनेत्री ने अपनी मराठी फिल्म ‘बकेट लिस्ट’ और इस पर हॉलीवुड में बनी फिल्म नेमसेक का हवाला दिया. उन्होंने कहा, ‘बात यह है कि लोग जब चाहें, जो चाहे वो चुन सकते हैं. मैंने हाल में ‘बकेट लिस्ट’ की और जब मैंने इसे टाइप किया तो उसने मुझे जैक निकोलसन और फ्रीमैन की ‘बकेट लिस्ट’ का विकल्प प्रस्तुत किया. तो आपके पास विकल्प, शैलियों और जो भी आपको पसंद है, यहां तक कि सुझाव भी उपस्थित हैं. यह (नेटफ्लिक्स) विघटनकारी है. मुझे लगता है कि यह लंबा चलेगा. सिनेमा हमेशा वहां रहेगा लेकिन नेटफ्लिक्स आपको स्वतंत्रता देता है कि आप जो चाहें बना सकते हैं.’

माधुरी जल्द ही मराठी में निर्मित अपनी ‘15 अगस्त’ नामक फिल्म से नेटफ्लिक्स के साथ पर्दापण करेंगी. यह व्यंग्यात्मक फिल्म में मुंबई के एक चॉल की कहानी है जो मध्य वर्गीय भारतीय के संघर्ष पर आधारित है.