केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद आफ़रीदी के कश्मीर से जुड़े बयान पर एक हद तक सहमति जताई है. आफ़रीदी ने लंदन में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा था, ‘पाकिस्तान को कश्मीर नहीं चाहिए. उससे तो उसके चार सूबे (प्रांत) ही ठीक तरह से नहीं संभाले जा रहे हैं.’ इस पर राजनाथ सिंह ने कहा, ‘बात तो ठीक कही है उन्होंने (आफ़रीदी ने). वे (पाकिस्तानी शासक) पाकिस्तान ही नहीं संभाल पा रहे हैं. कश्मीर क्या संभाल पाएंगे.’

हालांकि आफ़रीदी ने अपने बयान में यह भी जोड़ा था, ‘कश्मीर हिंदुस्तान को भी नहीं दिया जाना चाहिए. इसे स्वतंत्र कर देना चाहिए. ऐसा होने से कश्मीर में लोग मारे नहीं जाएंगे. इससे वहां इंसानियत जिंदा रहेगी.’ आफ़रीदी के बयान के इस हिस्से पर राजनाथ ने कहा, ‘कश्मीर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा.’

वैसे यह पहली बार नहीं है जब शाहिद आफ़रीदी ने कश्मीर को लेकर विवादित बयान दिया हो. इससे पहले इसी साल अप्रैल में उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्ट लिखकर कश्मीर की स्थिति को ‘भयावह और चिंताजनक’ बताया था. उन्होंने यह भी लिखा था कि कश्मीर की आज़ादी की आवाज़ उठाने वाले निर्दोष लोगों को ‘दमनकारी शासन’ (भारतीय सेना) की गोलियां खानी पड़ रही हैं. उन्होंने संयुक्त राष्ट्र (यूएन) व अन्य अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं से वहां दख़ल देने की मांग भी की थी.