दिल्ली विश्वविद्यालय छात्र संघ (डूसू) के पूर्व अध्यक्ष अंकिव बसोया के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है. दिल्ली विश्वविद्यालय ने सोमवार को पुलिस में अंकिव बसोया के खिलाफ फर्जी दस्तावेजों के आधार पर दाखिला लेने की शिकायत दी थी. इसी आधार पर पुलिस ने बसोया के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली विश्वविद्यालय में बौद्ध शिक्षा विभाग के प्रमुख केटीएस सरवा ने अपनी शिकायत में कहा है कि अंकिव बसोया ने एमए (बौद्ध अध्ययन) में दाखिला लेने के लिए तमिलनाडु स्थित तिरुवल्लुवर विश्वविद्यालय के फर्जी दस्तावेजों का सहारा लिया था. इस मामले में केटीएस सराव ने आगे बताया है, ‘तिरुवल्लुवर विश्वविद्यालय से सत्यापन रिपोर्ट मिलने के बाद 14 नवंबर को अंकिव बसोया का प्रवेश रद्द कर दिया गया था.’

इस साल सितंबर में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के अंकिव बसोया ने डूसू चुनावों में अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की थी. चुनाव जीतने के बाद एनएसयूआई और अन्य छात्र संगठनों ने अंकिव बसोया पर आरोप लगाए थे कि उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय में दाखिले के लिए तमिलनाडु स्थित तिरुवल्लुवर विश्वविद्यालय के फर्जी दस्तावेजों का सहारा लिया है. वहीं बीते 15 नवंबर को बसोया ने डूसू अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था.