भारत की स्टार बॉक्सर मैरी कॉम विश्व महिला बॉक्सिंग प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंच गई हैं. गुरुवार को खेले गए 48 किलोग्राम भार वर्ग के सेमीफाइनल मुकाबले में उन्होंने उत्तरी कोरिया की बॉक्सर किम ​ह्यांग को हराया. अब इसी शनिवार को खिताबी मुकाबले में उनकी भिड़ंत यूक्रेन की हेमा ओखोता के साथ होगी. उधर, आज के मुकाबले में मिली जीत के साथ ही उन्होंने रजत पदक पक्का कर लिया है.

35 वर्षीय मैरी कॉम के सामने अब छठवीं बार विश्व चैंपियन बनने का मौका है. इससे पहले वे 2002, 2005, 2006, 2008 और 2010 में विश्व चैंपियन रह चुकी हैं. खबरों के मुताबिक पांच बार विश्व चैंपियन रहने का रिकॉर्ड आयरलैंड की मुक्केबाज केटी टेलर के नाम भी दर्ज है. ऐसे में मैरी कॉम के पास केटी टेलर से आगे निकलने का सुनहरा मौका है. इस बीच सेमीफाइनल मुकाबले में जीत हासिल करने के बाद मैरी कॉम ने कहा है कि खिताबी मुकाबले में वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की पूरी कोशिश करेंगी. उनके मुताबिक वे पहले भी हेमा ओखोता के खिलाफ खेलते हुए उन्हें रिंग में मात दे चुकी हैं.