‘संस्थानों के तनाव में काम करने से उनकी विश्वसनीयता प्रभावित होती है.’  

— प्रणब मुखर्जी, भारत के पूर्व राष्ट्रपति

प्रणब मुखर्जी ने यह बात दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान केंद्र सरकार और रिजर्व बैंक आॅफ इंडिया (आरबीआई) के बीच हाल में हुए विवाद पर कही है. उनका यह भी कहना है कि न्यायपालिका, चुनाव आयोग, महालेखा परीक्षक, केंद्रीय सतर्कता आयोग जैसे संस्थानों ने भारत में संसदीय लोकतंत्र स्थापित रखने में अहम भूमिका अदा की है. पूर्व राष्ट्रपति के मुताबिक बीते कुछ समय के दौरान इन संस्थानों के दबाव में काम करने इनकी विश्वसनीयता पर सवाल उठे हैं और ऐसे में इस विश्वास को वापस बहाल किए जाने की जरूरत है. साथ ही विश्वास बहाली का यह काम बिना किसी देरी के होना चाहिए.

‘कमलनाथ जी को हम एक नया नाम दे रहे हैं. अब से वे कमीशन नाथ होंगे.’  

— संबित पात्रा, भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता

संबित पात्रा ने यह बात मध्य प्रदेश में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही. उनके मुताबिक 2जी स्पैक्ट्रम घोटाले में कथित तौर पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ का नाम आया था जबकि भ्रष्टाचार के एक अन्य मामले में कांग्रेस अध्यक्ष ने उनके खिलाफ सीबीआई की जांच नहीं होने दी. संबित पात्रा का यह भी कहना है कि मध्य प्रदेश के लोगों को कमीशन खाने वाले नेताओं की जरूरत नहीं है. इसके साथ ही उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में इस बार भी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनेगी.


‘नरेंद्र मोदी हिंदू-मुस्लिम की बीमारी से ग्रसित हैं.’  

— चंद्रशेखर राव, तेलंगाना राष्ट्र समिति के प्रमुख

चंद्रशेखर राव ने यह बात तेलंगाना में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने कहा कि तेलंगाना में मुसलमानों को शिक्षा और नौकरियों में 12 फीसदी का आरक्षण दिलाने के लिए उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 30 चिट्ठियां लिखी थीं पर मोदी ने एक का भी जवाब नहीं दिया. इसके साथ ही चंद्रशेखर राव का यह भी कहना था, ‘नरेंद्र मोदी के मन में सबके साथ एक जैसा बर्ताव कर पाने वाली संवेदनाओं की कमी है.’


‘मुझे उम्मीद है कि करतापुर साहिब कॉरिडोर भारत-पाक के घावों पर मरहम लगाने का काम करेगा.’  

— नवजोत सिंह सिद्धू, कांग्रेस के नेता

नवजोत सिंह सिद्धू ने यह बात करतारपुर साहिब कॉरिडोर के निर्माण संबंधी सरकार के फैसले का आभार जताते हुए कही है. इसके साथ ही उनका यह भी कहना था कि उन्हें इस बात की पूरी संभावनाएं दिखती हैं कि इस कॉरिडोर के बनने से भारत-पाकिस्तान के आपसी संबंधों में भी सुधार आएगा. दोनों देशों की तरफ से करतारपुर कॉरिडोर का शिलान्यास इसी महीने में ​कर दिया जाएगा.


‘राहुल गांधी देश में कम विदेश में ज्यादा रहते हैं, वे मध्य प्रदेश के लोगों का साथ क्या निभाएंगे.’  

— शिवराज सिंह चौहान, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री

शिवराज सिंह का यह बयान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर तंज कसते हुए आया है. इसके साथ ही उनका यह भी कहना है कि 28 नवंबर को जैसे ही मध्य प्रदेश विधानसभा के लिए वोटिंग हो जाएगी वे (राहुल गांधी) राज्य में दिखने वाले नहीं है. शिवराज सिंह चौहान के मुताबिक मध्य प्रदेश के लोगों के साथ उनका दिल का रिश्ता है और भविष्य में भी प्रदेश के लोगों के लिए वे ही काम आएंगे.