शनिवार को अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने राम मंदिर मुद्दे को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने शिवसैनिकों और साधु-संतों को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें राम मंदिर निर्माण का श्रेय नहीं चाहिए, बल्कि राम मंदिर निर्माण की तारीख चाहिए.

केंद्र की मोदी सरकार पर हमलावर शिवसेना प्रमुख ने आगे कहा, ‘मैं यहां राजनीति करने नहीं आया हूं. मैं यहां चार साल से सोए हुए कुंभकरण (सरकार) को जगाने आया हूं. उन्हें पता होना चाहिए कि किए गए वादे को पूरा करना भी हिंदुत्व है.’ उद्धव ठाकरे के मुताबिक राम मंदिर निर्माण को लेकर एक लंबे समय से वादा किया जा रहा है. लेकिन, न कानून लाया जा रहा है और न ही सरकार कुछ करती दिखाई दे रही है.

अपने संबोधन में ठाकरे का यह भी कहना था, ‘पहले अटल जी की केंद्र में सरकार थी. मिलीजुली सरकार में राममंदिर को लेकर कानून बनाना एक कठिन काम हो सकता है. पर अब तो केंद्र में पूर्ण बहुमत की सरकार है. उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार है. अब राममंदिर निर्माण हो ही जाना चाहिए.’

उद्धव ने मोदी सरकार से सवाल करते हुए कहा, ‘और कितने साल इन्तजार करूं? केंद्र की मजबूत मोदी सरकार राम मंदिर पर कानून लाए. अब राम मंदिर पर हिंदू चुप नहीं रहेगा.’

इससे पहले शनिवार सुबह अयोध्या पहुंचे शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सबसे पहले साधु-संतों से मुलाकात की और अपने परिवार के साथ लक्ष्मण किला का दौरा किया. उद्धव शाम को सरयू तट पर होने वाली आरती में भी हिस्सा लेंगे.