मॉडल और अभिनेत्री केट शर्मा ने फिल्म निर्देशक सुभाष घई के खिलाफ की गई यौन शोषण की शिकायत वापस ले ली है. मुम्बई के डीएन नगर पुलिस थाने में 14 नवंबर को दिए एक पत्र में उन्होंने कहा है कि वे अपनी मां की बिगड़ी तबीयत के कारण यह केस वापस ले रही हैं. मी टू अभिान के तहत केट शर्मा ने पिछले महीने सुभाष घई पर यौन शोषण के आरोप लगाए था.

मिडडे से बात करते हुए केट शर्मा ने कहा कि वे इस मामले में पुलिस के ढीले रवैए से ऊब चुकी हैं. केट ने आगे कहा, ‘इस मामले में न्याय पाने के लिए इधर-उधर भटकने के बजाय मैं अपने परिवार और खासतौर से अपनी मां का ख्याल रखना चाहती हूं. मैंने उस घटना के बारे में पहले अपने परिवार को नहीं बताया था. परिवार वालों ने मुझे टीवी पर इस बारे में बात करते हुए देखा था, जिसके बाद से मेरी मां बहुत ज्यादा तनाव हो गया था.’ वहीं मुम्बई पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने केट शर्मा द्वारा सुभाष घई के खिलाफ की गई शिकायत वापस लेने की पुष्टि की है.

इस अखबार से बात करते हुए केट ने आगे कहा है, ‘लोग मीटू मुहिम का मजाक बना रहे हैं. इसमें अब तक कुछ नहीं हुआ, किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई. अगर पुलिस सिर्फ एफआईआर दर्ज करने में ही लगी है तो फिर इस मुहिम का क्या मतलब? पुलिस ने मुझसे भी पूछा था कि क्या मैं एफआईआर दर्ज करवाना चाहती हूं. लेकिन मुझे इस मामले में अब आगे बढ़ने का कोई मकसद समझ में नहीं आ रहा है. और जो कुछ मैं सावर्जनिक तौर पर कहना चाहती थी, वो मैं कह चुकी हैं.’

केट शर्मा ने 14 अक्टूबर को सुभाष घई के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी थी. इसके मुताबिक घई ने उन्हें अगस्त के दौरान अपने घर पर बुलाया था. यहां इस चर्चित फिल्म निर्माता-निर्देशक ने उन्हें चूमने और जबर्दस्ती गले लगाने की कोशिश की थी.