साल 2002 में गुजरात के अक्षरधाम मंदिर पर हुए आतंकवादी हमले के मामले में राज्य पुलिस की अपराध शाखा को बड़ी कामयाबी मिली है. एनडीटीवी के मुताबिक सोमवार को अपराध शाखा ने राज्य के अहमदाबाद एयरपोर्ट से मोहम्मद फारूक शेख नाम के एक आरोपित को गिरफ्तार किया. उस पर इस हमले के लिए पैसे जुटाने का आरोप है. गुजरात पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक मोहम्मद फारूक शेख बीते 16 सालों से फरार था. वह सऊदी अरब के रियाद से अपने परिवार वालों से मिलने के लिए अहमदाबाद पहुंचा था. इससे पहले अपराध शाखा को बीते साल नवंबर में इस हमले के मुख्य आरोपित अब्दुल रशीदी अजमेरी को भी गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली थी.

लश्कर-ए-तैयबा के दो आतंकवादियों ने 24 सितंबर 2002 को गांधीनगर में स्थित अक्षरधाम मंदिर को निशाना बनाया था. उस हमले में तीस लोगों की मौत हो गई थी जबकि 80 अन्य लोग घायल हो गए थे. साथ ही आतंकवादियों से लड़ते हुए राज्य पुलिस के एक जवान और राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) के तीन कमांडो भी शहीद हुए थे. हमले के इस मामले में एक अदालत ने तीन आरोपितों को मौत जबकि एक अन्य को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने सबूतों के अभाव ने इन सभी आरोपितों को आरोप मुक्त करते हुए बरी कर दिया था.