भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) केंद्र सरकार को अपने रिजर्व फंड से एक लाख करोड़ रुपये दे सकता है. एक अंतरराष्ट्रीय वित्तीय कंपनी की रिपोर्ट में यह बात कही गई है. खबरों के मुताबिक सोमवार को बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि आरबीआई के पास इस समय अपनी आवश्यकता से अधिक धन आरक्षित है और वह सरकार को एक लाख करोड़ रुपये तक ट्रांसफर करने की स्थिति में है.

इससे पहले पिछले दिनों आरबीआई की बोर्ड मीटिंग में इस मुद्दे पर समिति बनाए जाने का फैसला किया गया था. रिपोर्टों के मुताबिक यह समिति इसी हफ्ते बनाई जा सकती है. इस पर बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच की रिपोर्ट में कहा गया है कि गठन के बाद समिति एक से तीन लाख करोड़ रुपये तक की अतिरिक्त रकम की पहचान कर सकती है. रिपोर्ट के मुताबिक अगर समिति ने आरबीआई की आपात निधि को सात फीसदी से घटा कर 3.5 फीसदी करने का फैसला किया, तो वह केंद्र को 1.05 लाख करोड़ रुपये तक की रकम ट्रांसफर कर सकता है.