गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर शनिवार को राज्य के आला अधिकारियों और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायकों से मुलाकात करेंगे. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक यह मुलाकात डोना पावला इलाके में स्थित उनके निजी आवास पर होगी. दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज करवाकर बीते महीने की 14 तारीख को वापस गोवा लोटने के बाद से मनोहर पर्रिकर अपने इसी आवास में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं. वहीं दो हफ्ते पहले विपक्षी दल कांग्रेस ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मिलकर मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य पर सवाल उठाते हुए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की थी. इस ताजा घटनाक्रम को इसी हवाले से देखा जा रहा है.

इस बीच मुख्यमंत्री कार्यालय के एक अधिकारी ने बताया है, ‘मनोहर पर्रिकर पहले अधिकारियों से मिलकर राज्य की शासन व्यवस्था हाल जानेंगे. इसके बाद वे भाजपा विधायकों और राज्य के मंत्रियों से मिलेंगे.’ इसी अधिकारी ने आगे कहा कि पूर्व की तुलना में अब मुख्यमंत्री का स्वास्थ्य बेहतर है. इससे पहले मनोहर पर्रिकर ने बीते महीने की 31 तारीख को इसी आवास में एक कैबिनेट बैठक भी की थी.

उधर, गोवा में भाजपा के सहयोगी गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के प्रमुख व राज्य के कृषि मंत्री विजय सरदेसाई ने राज्य में नेतृत्व परिवर्तन की संभावनाओं को खारिज किया है. शुक्रवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए विजय सरदेसाई ने कहा, ‘बुधवार को मुख्यमंत्री से मेरी मुलाकात हुई थी. उनकी स्थित में सुधार है.’

इससे पहले इसी महीने की 22 तारीख को विजय सरदेसाई ने एक विवादित बयान देते हुए कहा था कि मनोहर पर्रिकर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने सहित अपनी दूसरी जिम्मेदारियों को भी छोड़ना चाहते थे. लेकिन भाजपा हाईकमान के हस्तक्षेप की वजह वे ऐसा नहीं कर सके.

मनोहर पर्रिकर अग्नाश्य के कैंसर से पीड़ित हैं जिसका वे गोवा और मुंबई के अलावा अमेरिका जाकर इलाज करवा चुके हैं. इसी बीमारी की वजह से ही उन्हें बीते दिनों दिल्ली के एम्स में भी भर्ती होना पड़ा था. हालांकि एम्स से गोवा लौटने के बाद उनकी कोई सार्वजनिक मौजूदगी देखने को नहीं मिली थी जिससे गोवा के अनेक सामाजिक संगठनों और कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों ने उनसे उनके इस्तीफे की मांग की थी.