‘दोयम दर्जे के लोगों की वजह से अखिल भारतीय स्तर पर नौकरशाही भी दोयम दर्जे की हो चुकी है.’  

— चंद्रबाबू नायडू, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री

चंद्रबाबू नायडू ने यह बात आंध्र प्रदेश के अमरावती में एक कार्यक्रम के दौरान कही. उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र सरकार में अहम पदों पर आज गुजरात कैडर के ‘दोयम दर्जे’ के नौकरशाह नियुक्त हैं जिन्होंने पूरी शासन-व्यवस्था को बर्बाद कर दिया है. इस मौके पर चंद्रबाबू नायडू ने यह भी कहा, ‘गुजरात छोटा राज्य है जबकि दिल्ली बड़ी जगह. दिल्ली को 29 राज्यों से निपटना पड़ता है. अगर सारे अधिकारी एक छोटे स्थान से लाए जाएंगे तो आपके पास अयोग्य लोग ही होंगे.’

‘किसान फसल बीमा योजना एक बहुत बड़ा घोटाला है.’  

— अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के मुख्यमंत्री

अरविंद केजरीवाल का यह बयान किसानों के आंदोलन का समर्थन करते हुए आया है. इसके साथ ही उन्होंने एक ट्वीट में लिखा है कि बीमा कंपनियां किसानों के खातों से उनकी इच्छा के बगैर ही पैसे निकलवा लेती हैं और फसल खराब होने पर उन्हें कोई मुआवजा नहीं दिया जाता. उनके मुताबिक यह योजना केवल बीमा कंपनियों के मालिकों को फायदा पहुंचाने के लिए चलाई जा रही है. अरविंद केजरीवाल ने इस योजना को ‘भाजपा किसान डाका योजना’ भी बताया है.


‘प्रधानमंत्री को सिर्फ उद्योगपतियों का ही नहीं बल्कि किसानों का कर्ज भी माफ करना चाहिए.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी का यह बयान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए आया है. दिल्ली में आंदोलन कर रहे किसानों का समर्थन करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने यह भी कहा है, ‘हिंदुस्तान के किसान केंद्र सरकार से कोई उपहार नहीं बल्कि अपना हक मांग रहे हैं.’ राहुल गांधी के मुताबिक आज किसान अपनी फसल के बीमा की रकम अदा करते हैं और उसका पैसा अनिल अंबानी की जेब में जाता है.


‘मेरे और कैप्टन अमरिंदर सिंह के कप्तान राहुल गांधी हैं.’  

— नवजोत सिंह सिद्धू, पंजाब के संस्कृति मंत्री

नवजोत सिंह सिद्धू का यह बयान इसी हफ्ते की गई उनकी पाकिस्तान यात्रा को लेकर आया है. एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान जाने के लिए मैंने राहुल गांधी से अनुमति ली थी. हालांकि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुझे रोका था.’ नवजोत सिंह सिद्धू ने आगे कहा, ‘कैप्टन अमरिंदर सिंह मेरे पिता समान हैं पर मैंने उनसे कह दिया था कि मैं पाकिस्तान जाऊंगा क्योंकि अपनी पिछली यात्रा के दौरान मैं वहां आने का वादा करके आया हूं.’


‘भारत अगर इस बार भी आॅस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज नहीं जीता तो भविष्य में कभी नहीं जीत पाएगा.’  

— डीन जोंस, आॅस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज

डीन जोंस का यह बयान भारत और आॅस्ट्रेलिया के बीच छह दिसंबर से शुरू होने जा रही टेस्ट सीरीज को लेकर आया है. भारत के मुकाबले आॅस्ट्रेलियाई टीम को कमजोर आंकते हुए उन्होंने यह भी कहा है कि इस सीरीज को भारत 3-0 या फिर 2-0 से अपने नाम कर सकता है. इसके साथ ही डीन जोंस ने यह भी कहा कि जीत का अंतर पैदा करने के लिए भारत के तेज गेंदबाजों को अपेक्षाओं पर खरा उतरना होगा.