‘राहुल गांधी और उनकी पार्टी धर्म व जाति को लेकर भ्रम की स्थिति में है.’  

— सुषमा स्वराज, विदेश मंत्री

सुषमा स्वराज का यह बयान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के एक बयान पर पलटवार करते हुए आया है. उनके मुताबिक, ‘कांग्रेस ने राहुल गांधी को कई सालों से एक धर्मनिरपेक्ष नेता के तौर पर पेश किया पर चुनाव आते ही अब उनकी छवि एक हिंदू नेता के तौर पर बनाने की कोशिश की जा रही है.’ कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए सुषमा स्वराज ने यह भी कहा, ‘भगवान न करे कोई ऐसा दिन आए कि हमें राहुल गांधी से हिंदू होने का अर्थ जानना पड़े.’ इससे पहले शनिवार को ही राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हिंदू होने पर सवाल उठाया था.

‘संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार ने अपने कार्यकाल के दौरान तीन सर्जिकल स्ट्राइक की थीं.’

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात राजस्थान के उदयपुर में एक कार्यक्रम के दौरान कही. इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार के कार्यकाल में की गई सर्जिकल स्ट्राइक को नरेंद्र मोदी ने ‘राजनीतिक संपत्ति’ में बदल दिया है. राहुल गांधी के मुताबिक कांग्रेस सैन्य मामलों में सेना की बातें सुनती है जबकि राजनीतिक मामलों में उसे प्रवेश की अनुमति नहीं देती.


‘सर्जिकल स्ट्राइक का राजनीतिकरण करके राहुल गांधी सेना के वीर जवानों का अपमान कर रहे हैं.’  

— अमित शाह, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष

अमित शाह का यह बयान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के एक बयान पर पलटवार करते हुए आया है. उनके मुताबिक नरेंद्र मोदी ने सर्जिकल स्ट्राइक करवाकर देश के लिए शहीद होने जवानों का बदला लिया था. इसके साथ ही अमित शाह ने यह भी कहा कि देश की सुरक्षा में सीमा पर खड़े हर जवान को आज यह भरोसा है कि उसके पीछे उसके देश की सरकार खड़ी हुई है.


‘केंद्र की नरेंद्र मोदी और राजस्थान की वसुंधरा राजे सिंधिया सरकार अपने वादों पर खरी नहीं उतरी हैं.’  

— पी चिदंबरम, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता

पी चिदंबरम का यह बयान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए आया है. उनके मुताबिक, ‘नरेंद्र मोदी ने विकास दर को दहाई के अंक तक ले जाने का वादा किया था पर मुझे नहीं लगता कि उनके बचे हुए कार्यकाल के दौरान भी ऐसा संभव हो सकेगा.’ पी चिदंबरम ने यह भी कहा कि सात फीसदी की मौजूदा औसत वृद्धि दर में भी कई खामियां हैं क्योंकि रोजगार के नए अवसरों का सृजन नहीं हुआ है और पूंजी निवेश व निर्यात क्षेत्र में वृद्धि देखने को नहीं मिली है.


‘मुसलमानों को देश का अल्पसंख्यक नहीं माना जा सकता.’  

— गुलाबचंद कटारिया, भारतीय जनता पार्टी के नेता

गुलाब चंद कटारिया का यह बयान अल्पसंख्यक समुदायों के लिए उठ रही आरक्षण की मांगों के मद्देनजर आया है. उनके मुताबिक देश में मुसलमानों की आबादी 15 करोड़ है, इसके अलावा देश में कई अन्य ऐसी जातियां हैं जिनकी आबादी देश की जनसंख्या का एक प्रतिशत ही है. गुलाब चंद कटारिया के मुताबिक ऐसी परिस्थितियों में सिर्फ मुसलमानों को अल्पसंख्यक नहीं माना जाना चाहिए.