ईरान के परमाणु कार्यक्रमों के मद्देनजर अमेरिका की तरफ से लगाए गए प्रतिबंधों पर वहां के राष्ट्रपति हसन रूहानी का एक अहम बयान आया है. एनडीटीवी के मुताबिक उन्होंने कहा है, ‘अमेरिका को पता होना चाहिए कि ईरान अपना तेल बेच रहा है और वह इसका निर्यात जारी रखेगा. अमेरिका हमारे तेल के निर्यात को रोकने में सक्षम नहीं है.’ इसके साथ ही हसन रूहानी ने आगे कहा, ‘अगर कोई ऐसा दिन आया जब उन्होंने (अमेरिका) ईरान के कच्चे तेल के निर्यात को पूरी तरह प्रतिबंधित करने की कोशिश की तो फारस की खाड़ी से और किसी देश के तेल का निर्यात नहीं हो पाएगा.’

इससे पहले इसी साल मई में ईरान के साथ परमाणु समझौते से खुद को अलग करने के बाद अमेरिका ने खाड़ी के इस इस्लामिक गणराज्य पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की थी. तब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने सहयोगी देशों को ईरान से कच्चे तेल के आयात पर रोक लगाने का आग्रह भी किया था. ऐसे देशों में भारत भी शामिल था. हालांकि बाद में अमेरिका ने भारत सहित चीन, तुर्की, जापान, इटली और दक्षिण कोरिया को मार्च, 2019 तक के लिए ईरान से तेल आयात करने की छूट दे दी थी.