‘कांग्रेस की हर बड़ी गलती को ठीक करने का काम मेरे नसीब में आया है.’  

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात राजस्थान के गंगानगर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कही. इसके साथ ही कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने यह भी कहा कि 1947 में विभाजन के वक्त अगर इस पार्टी के नेताओं ने समझदारी और संवेदनशीलता दिखाई होती तो गुरुद्वारा करतारपुर साहिब भारत का हिस्सा होता. नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, ‘सत्ता के मोह को हम समझ सकते हैं लेकिन सत्ता के मोह में संतुलन भी खो जाए, यह समझ से परे है. राजगद्दी के मोह में कांग्रेस ने जो गलतियां की उसका खामियाजा आज हमें भुगतना पड़ रहा है.’

‘बुलंदशहर की हिंसा पूर्व नियोजित साजिश थी.’  

— ओम प्रकाश राजभर, उत्तर प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री

ओम प्रकाश राजभर का यह बयान विश्व हिंदू परिषद् और बजरंग दल जैसे हिंदूवादी संगठनों पर निशाना साधते हुए आया है. इसके साथ ही सवालिया लहजे में ओम प्रकाश राजभर ने यह भी कहा है कि आखिर यह घटना मुस्लिम इज्तिमा के दिन ही क्यों हुई. इस हिंसा के जरिये कहीं न कहीं क्षेत्रीय शांति को भंग करने की कोशिश की गई थी. इससे पहले सोमवार को गोहत्या के नाम पर बुलंदशहर में हिंसा भड़क उठी थी और उस दौरान एक पुलिस अधिकारी व एक स्थानीय युवक की गोली लगने से मौत भी हो गई थी.


‘प्रधानमंत्री अपने भाषणों में तो भारत माता की जय बोलते हैं पर काम अनिल अंबानी के लिए करते हैं.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात राजस्थान के अलवर में एक रैली को संबोधित करते हुए कही. इसके साथ ही आक्रामक लहजे में उन्होंने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी को अपने भाषण की शुरुआत अनिल अंबानी, मेहुल चौकसी, नीरव मोदी, ललित मोदी जैसे लोगों की जयकार से करनी चाहिए. इस मौके पर राहुल गांधी ने दावा करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी को उद्योगपतियों ने प्रधानमंत्री बनवाया है इसीलिए वे किसानों का कर्ज माफ करने के बजाय सिर्फ सूट-बूट पहनने वालों का कर्ज माफ करने पर ध्यान दे रहे हैं.


‘मैं लोकसभा का अगला चुनाव नहीं लड़ूंगी और अपना पूरा ध्यान गंगा की सफाई व राम मंदिर के निर्माण पर लगाऊंगी.’  

— उमा भारती, केंद्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री

उमा भारती ने यह बात मंगलवार को मध्य प्रदेश के भोपाल में कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘राम मंदिर के निर्माण पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) किसी तरह का कोई नफा-नुकसान नहीं सोचती. उत्तर प्रदेश में 1993 का विधानसभा चुनाव हारने के बाद भी हमने 1998 के चुनावी घोषणापत्र में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को प्रमुखता से शामिल किया था क्योंकि भाजपा के लिए भगवान राम आस्था के केंद्रबिंदु हैं.’


‘अगले साल होने वाले आम चुनाव के मद्देनजर भारत हमारे साथ कोई बातचीत करने के लिए तैयार नहीं हो रहा.’  

— इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इमरान खान का यह बयान भारत और पाकिस्तान के बीच दशकों से चल रहे कश्मीर विवाद पर आया है. इसके साथ ही उनका यह भी कहना है कि यह बात उनसे भारत के पूर्व विदेश मंत्री नटवर लाल ने कही थी. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री का यह भी कहना है कि भारत-पाकिस्तान के बीच तब तक बातचीत शुरू नहीं हो सकती जब तक कि कश्मीर मसले के समाधान को लेकर वाजिब विकल्प नहीं तलाशे जाते.


‘भगवान हनुमान दलित और मनुवादियों के गुलाम थे.’  

— सावित्री बाई फुले, भारतीय जतना पार्टी की सांसद

सावित्री बाई फुले का यह बयान अपनी ही पार्टी पर निशाना साधते हुए आया है. उनके मुताबिक, ‘अगर भगवान राम के पास शक्ति थी तो जिन लोगों ने उनका बेड़ा पार कराने का काम किया, उन्हें बंदर क्यों बना दिया? उनको तो इंसान बनाना चाहिए था. इतना ही नहीं उनको पूंछ लगा दी गई और उनके मुंह पर कालिख भी पोत दी गई. क्योंकि हनुमान दलित थे इसलिए उस वक्त भी उनका अपमान किया गया.’ सावित्री बाई फुले ने आगे कहा, ‘हमें लगता है कि यह देश भगवान और मंदिर के नाम पर नहीं बल्कि भारतीय संविधान के नाम पर चलेगा जिसमें सभी धर्मों का सम्मान हो.’